उत्तर प्रदेश 10 साल की बच्ची से रेप मुजफ्फरनगर

10 साल की हिन्दू बच्ची से रेप उपरान्त मुस्लिम ने की शादी फिर दे दिया तलाक

ट्रेंडिंग प्रमुख खबरें

उत्तर प्रदेश में 10 साल की मासूम बच्ची के साथ उसके परिवार के सदस्य द्वारा पहले रेप किया जाता है। इसके बाद परिवार वाले उस मासूम बच्ची की शादी आरोपी से करा देते हैं । यह घटना मुजफ्फरनगर की है| जब चाइल्ड हेल्पलाइन की टीम बुढाना क्षेत्र में जांच करने पहुंचती है। तब उन्हें यह पता चलता है कि बुढाना क्षेत्र में 10 साल की बच्ची का पहले तो उसकी बहन के देवर द्वारा रेप किया जाता है। उसके बाद परिवार वालों ने आरोपी के साथ ही बच्ची की शादी करा दी। चाइल्ड हेल्पलाइन ने यह शिकायत पुलिस में दर्ज करा दी है। आरोपी मुजफ्फरनगर के शामली क्षेत्र का ही रहने वाला है।

जांच में पता चलता है कि बच्ची के घरवालों ने पुलिस स्टेशन में कोई शिकायत ही दर्ज नहीं कराई है। यह जानकारी बुढाना के थानाध्यक्ष ने स्वयं दी। उन्होंने कहा कि बच्ची के घरवालों से इस मामले में बातचीत हो चुकी है परंतु उन्होंने लिखित में शिकायत दर्ज नहीं कराई। जैसे ही बच्ची के घर वाले लिखित शिकायत करते हैं हम आगे की कार्यवाही तुरंत शुरू कर देंगे।

गरुड़ प्रकाशन के द्वारा छापी जाएगी दिल्ली दंगों पर किताब: वामपंथियों के आगे झुक गया ब्लूम्सबरी

यह बात किसी को भी झकझोर कर रख देगी कि एक 10 साल की मासूम बच्ची ने अपनी जिंदगी में कितना कुछ झेल लिया। पहले उसका रेप किया जाता है। उसके बाद जबरन उसकी शादी कर दी जाती है। बच्ची को 6 महीने तक यही सब झेलना पड़ता है तथा 6 महीने के बाद आरोपी बच्ची को तलाक दे देता है।

पूरे मामले में हैरान कर देने वाली बात यह है कि बच्ची के घरवालों ने भी आरोपी का साथ दिया। यह भी पता लगा है कि पीड़िता के की बहन ने ही शादी का दबाव बनाया था। कहने को तो हमारा देश बहुत तरक्की कर चुका है। परंतु अभी भी देश में कुछ ऐसे गांव हैं जहां के लोग बहुत पिछड़े हुए हैं। बदनामी के डर से इन लोगों ने एक मासूम बच्ची की जान को दाव पर लगा दिया। इस मामले में उत्तर प्रदेश प्रशासन को सामने आना चाहिए तथा आरोपी के साथ-साथ बच्ची के घरवालों को भी सजा होनी चाहिए। यदि ऐसा हो जाता है तो बहुत सारे लोग इससे सबक ले सकते हैं तथा आने वाले समय में बहुत सुधार हो सकता है।

Sharing is caring!

1 thought on “10 साल की हिन्दू बच्ची से रेप उपरान्त मुस्लिम ने की शादी फिर दे दिया तलाक

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *