शिवसेना जया बच्चन

शिवसेना को भाया जया बच्चन का बयान, सामना में करी तारीफ और घर की बढ़ाई सुरक्षा

ट्रेंडिंग प्रमुख खबरें मनोरंजन

शिवसेना ने बुधवार (16 सितंबर) को राज्यसभा में अपने बयान के लिए जया बच्चन का समर्थन किया और अपने मुखपत्र सामना में उनके लिए तारीफों के पल बांधते हुए लिखा कि बॉलीवुड की दिग्गज अभिनेत्री सच्चाई का समर्थन करने और अपने मन की बात कहने के लिए जानी जाती है।

सामाना लेख ने जया बच्चन की सराहना की और कहा कि उन्होंने अपने राजनीतिक और सामाजिक विचारों को कभी छिपाकर नहीं रखा। लेख में कहा गया है कि जया ने महिलाओं पर हो रहे अत्याचारों के खिलाफ संसद में हमेशा आवाज उठाई है।

अभिनेताओं कंगना रनौत और रवि किशन पर एक अप्रत्यक्ष हमले में, शिवसेना ने कहा कि बॉलीवुड केवल कुछ अभिनेताओं से नहीं बना है और कुछ अभिनेता जो अनियंत्रित बयान दे रहे हैं वे नफरत से प्रेरित हैं। शिवसेना ने कहा कि जो एक्टर-एक्ट्रेस दावा कर रहे हैं कि फिल्म उद्योग में हर कोई नशा करता है उसे ‘डोपिंग’ परीक्षण से गुजरना होगा।

सामाना लेख ने आमिर खान, शाहरुख खान और सलमान खान की भी प्रशंसा की और कहा कि बॉलीवुड में कैश रजिस्टर बढ़ाने में ‘खान्स’ ने महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है। लेख में कहा गया है कि जो लोग दावा कर रहे हैं कि ये अभिनेता सभी नशीली दवाओं का सेवन कर रहे थे उन्हें खुद को देखना चाहिए।

मंगलवार को जया बच्चन ने रवि किशन के बॉलीवुड ड्रग कनेक्शन वाले बयान पर पलटवार करते हुए कहा कि कुछ अभिनेता-राजनीतिज्ञ फिल्म उद्योग को बदनाम करने की कोशिश कर रहे हैं और सरकार को इसके खिलाफ रोक लगानी चाहिए। 72 वर्षीय दिग्गज अभिनेत्री-राजनीतिज्ञ ने कोई भी नाम लेने से परहेज किया।

“सरकार को एंटरटेनमेंट इंडस्ट्री कि साथ खड़ा होना चाहिए क्योंकि यह हमेशा सरकार की मदद के लिए आगे आती है। इससे जुड़े लोग आगे आते हैं और उनके लिए बोलते हैं, राष्ट्रीय आपदा होने पर उनका समर्थन करते हैं, वे आगे आते हैं, पैसा देते हैं, अपनी सेवाएं देते हैं। और मुझे लगता है यह बहुत महत्वपूर्ण है कि सरकार को इस उद्योग का समर्थन करना चाहिए और इसे सिर्फ इसलिए नहीं मारना चाहिए क्योंकि कुछ लोग गलत हैं, आप पूरे उद्योग की छवि को धूमिल नहीं कर सकते।

यह उद्योग अंतरराष्ट्रीय नाम और राजनीतिक लोगों से इतर अलग पहचान भी लाता है।” मैं वास्तव में बहुत शर्मिंदा थी और कल लोज सभा में हमारे सदस्यों में से एक, जो उद्योग से है (मैं नाम नहीं ले रही हूं) उन्होंने फिल्म उद्योग के खिलाफ बात की। यह एक शर्म की बात है ‘जिस थाली में खाते है उसी में छेद करते है, गलत बात है।” मुझे सुरक्षा की जरूरत है, इस उद्योग को सरकार के संरक्षण और समर्थन की जरूरत है “, जया बच्चन ने संसद में मानसून सत्र के दूसरे दिन कहा।

हिन्दू तीज व्रत का अपमान करने वाली वामपंथी पत्रकार सुष्मिता सिन्हा को दिल्ली पुलिस से क्लीन चिट

अब तो शिवसेना सरकार तो बच्चन परिवार पर और भी मया गई है। मुंबई पुलिस ने बुधवार को सेलिब्रिटी दंपति अमिताभ बच्चन और जया बच्चन के मुंबई निवास जलसा के आसपास सुरक्षा बढ़ा दी है।मुंबई पुलिस ने कहा कि अभिनेता जया बच्चन द्वारा संसद कि ऊपरी सदन में फिल्म उद्योग की छवि को धूमिल करने वालों को फटकार लगाने वाले उग्र भाषण के बाद एहतियात के तौर पर सुरक्षा बढ़ा दी गई है।

इस बीच, शबाना आज़मी ने भी अपने बयानों के लिए जया बच्चन का स्वागत किया। उन्होंने एएनआई को बताया, “यह एक बहुत जरूरी बयान था और इसका महत्व इसलिए बढ़ जाता है क्योंकि यह सदन के पटल पर था। जया बच्चन को बधाई।” इससे पहले कंगना रनौत ने भी कल जाया बच्चन को आइना दिखते हुए कहा था कि क्या वह अपनी बेटी श्वेता नंदा और बेटे अभिषेक बच्चन के साथ ऐसी ड्रग्स वाली दुर्गति होने पर भी यही बयान देती ? और उनसे दूसरों पर “करुणा दिखाने” की अपील करी। रवि किशन ने भी जाया बच्चन को सीधे तौर पर जवाब दे दिया था कि उन्हें फिल्म इंडस्ट्री में किसी ने थाली सजाकर नहीं दी है बल्कि उन्होंने खुद को थाली परोसी है और आज अपने दम पर अभिनेता फिर नेता बनकर उभरे है।

जाया बच्चन खुद तो ट्विटर पर नहीं ही है लेकिन उन्हें ट्विटर यूजर्स ने खूब ट्रोल किया और उनके बच्चों की अय्याशी भरी पार्टियों की तस्वीरें वायरल करते हुए उनसे और उनके पति और अभिनेता अमिताभ बच्चन से सवाल पूछ डाले जिसका कोई भी जवाब बच्चन परिवार की तरफ से नहीं दिया गया है और क्योंकि उन्होंने शिवसेना यानी सोनिया सेना सरकार को खुश कर दिया है इसलिए उन्हें अब हाई सिक्योरिटी में रखा जा रहा जैसे कोई गुस्से भीड़ इस कोरोना महामारी में उनके घर को जला डालेगी।

Sharing is caring!

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *