रिया चक्रवर्ती जमानत याचिका खारिज

रिया चक्रवर्ती को मिली बेल, भाई शौविक रह गया – जानिये केस पर असर

ट्रेंडिंग प्रमुख खबरें मनोरंजन

ड्रग मामले में बॉम्बे हाईकोर्ट ने रिया चक्रवर्ती को बेल दे दी है,लेकिन रिया के भाई शोविक और ड्रग पेडलर बासित परिहार की बेल कोर्ट ने रिजेक्ट की है। इसी के साथ सुशांत के स्टाफ मैनेजर सैमुअल मिरांडा को भी जमानत मिल गई है। रिया चक्रवर्ती के बेल मिलते ही बॉलीवुड की कई बड़ी हस्तियों ने राहत की सांस ली है। हालांकि रिया के ऊपर कुछ पाबन्दी है जिससे उन्हें ज्यादा फर्क नहीं पड़ने वाला है।

अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत की संदिग्ध मौत के मामले में रिया चक्रवर्ती का नाम सबसे विवादास्पद हो चुका है। जाहिर है कि रिया पर इतने गंभीर आरोप लगे हैं,और यह केस इस समय देश का सबसे हाई प्रोफाइल केस है और उसकी जांच देश की तीन बड़ी एजेंसियां सीबीआई, प्रवर्तन निदेशालय और नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो के हाथों में है। जाहिर है कि आरोप जितने गंभीर हैं, रिया को उसके लिए उतने ही बड़े वकील की जरूरत थी।

उनके वकील सतीश मानशिंदे वैसे ही वकील हैं, जो पहले भी बॉलीवुड और अंडरवर्ल्ड से जुड़े बहुत ही गंभीर और विवादास्पद मामलों में अपने क्लाइंट्स की अदालतों में मदद कर चुके हैं। जैसे सतीश मानशिंदे ने अपने बाकी क्लाइंट्स की मदद की वैसे ही उन्होनें रिया को भी बैल दिला दी। इसके अलावा ड्रग मामले में बॉलीवुड की मशहूर अभिनेत्री दीपिका पादुकोण, श्रद्धा कपूर और सारा अली खान का नाम भी सामने आया है जिसकी जांच चल रही है।

कंगना राणावत की बहन रंगोली ने दिया शाबाना आजमी को करारा जबाब

 

जस्टिस सारंग वी. कोतवाल ने वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिये फैसला सुनाया। इससे पहले 29 सितंबर को इस मामले की सुनवाई के बाद कोर्ट ने अपना फैसला सुरक्षित रख लिया था। वहीं मंगलवार को एनडीपीएस कोर्ट ने रिया, शोविक, सैमुएल, दीपेश, बासित परिहार और जैद की 14 दिनों की न्यायिक हिरासत 20 अक्टूबर तक के लिए बढ़ा दी।

इससे पहले एनसीबी ने 8 सितंबर को रिया चक्रवर्ती को पूछताछ के बाद गिरफ्तार किया था। कोर्ट दो बार रिया की न्यायिक हिरासत बढ़ाई थी जिसके बाद अब रिया को जमानत दे दी गई है।बेल पर सुनवाई के दौरान एनसीबी ने रिया और अन्य सभी सभी लोगो की बेल का पुरजोर विरोध किया था और कोर्ट में कहा था कि रिया न सिर्फ सुशांत तक ड्रग्स पहुंचाती थीं बल्कि वो अवैध ड्रग्स ट्रैफिकिंग और फाइनेंसिंग में भी शामिल थीं। ये एक पूरा सिंडिकेट है जो समाज के लिए भी खतरनाक है। लेकिन एनसीबी के विरोध के बाद भी सतीश मानशिंदे उन्हें बैल दिलाने में सफल रहे। इससे जाहिर है कि इस मामले में कई चौंकाने वाली चीज़े सामने आ सकती है और संवभ है इसका असर जांच पर भी दिखाई दे।

सुशांत की मौत की सीबीआई जांच के दौरान ड्रग्स एंगल सामने आया था जिसके बाद एनसीबी ने जांच में पाया कि रिया चक्रवर्ती और उसका भाई मुंबई के कई बड़े ड्रग्स पैडलर के संपर्क में थे। इसके बाद नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो ने रिया चक्रवर्ती उसके भाई शोभित और सैमुअल मिरांडा सहित 20 लोगों को गिरफ्तार किया था।

Sharing is caring!

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *