ISIS की टेरर मैगजीन का हुआ भंडाफोड़, बाबरी का बदला लेने के लिए मुसलमानों को भड़काया

ट्रेंडिंग धर्म प्रमुख खबरें विदेश

पूरी दुनिया में आतंकवाद का पर्याय बन चुका आईएसआईएस के खतरनाक मनसूबे फिर से दुनिया के सामने आ गए हैं। आईएसआईएस अपनी डिजिटल मैगजीन में भारतीय मुसलमानों को बरगलाने की कोशिश कर रहा है और भारत के खिलाफ हथियार तक उठाने की खतरनाक सलाह तक दे रहा हैं। आईएसआईएस अपनी डिजिटल पत्रिका में बाबरी मस्जिद विध्वंस मामले में भड़काने और उसका बदला लेने के लिए भड़का रहा हैं। वॉयस ऑफ इंडिया नाम की इस पत्रिका को आईएसआईएस के आतंकवादी टेलिग्राम चैनल्स और वेब के जरिए भारत में फैला रहे है। पत्रिका के 9 वें एडिशन में बाबरी मस्जिद का जिक्र है जिसका मतलब है कि इस पत्रिका के 8 एडिशन पहले ही वितरित हो चुके है जो बहरत सरकार के लिए चिन्ता की बात हैं। अगर इस तरह की नफरत और घृणा फ़ैलाने वाली पत्रिकाएं भारत के आम जनमानस के हाथ लगेगी तो उसका विपरीत असर होना लाज़मी है जिसका सीधा सीधा फायदा आईएसआईएस जिससे इस्लामी आतंकवादियों हो होगा।

इस पत्रिका बाबरी विध्वंस से जुड़ी तस्वीरें हैं और तस्वीरों के साथ लिखा है कि बाबरी का बदला लिया जाएगा। इस पत्रिका में कहा गया है कि ISIS भारत में नागरिकता कानून के खिलाफ प्रदर्शन करने वाले मुसलमानों के साथ मजबूती से खड़ा है। पत्रिका के अन्य एडिशन की तरह इसमें भी भारत के मुसलमानों को बरगलाते हुए कहा गया है कि वे हिन्दुस्तान की सरकार के खिलाफ ‘जिहाद’ का रास्ता चुनें। इस डिजिटल पत्रिका में कहा गया है कि बाबरी मस्जिद का विध्वंस एक ऐसी वजह है जिसके लिए इस्लामिक स्टेट के लड़ाके लड़ाई लडेंगे और भारत में हिंसा तक फैलाने का काम करेंगे। पत्रिका के माध्यम से धमकी दी गई है कि जिन्हें आईएसआईएस के वसूलों में यकीन नहीं है उन्हें सजा दी जाएगी।

NEET परीक्षाओं के परिणाम में हुई गड़बड़ी, टॉपर को ही बता दिया फेल

इस ऑनलाइन पत्रिका में बाबरी विध्वंस के आरोपियों को बरी करने का भी जिक्र किया गया है। पत्रिका में भारत के मुसलमानों को बरगलाने की कोशिश की गई है और कहा गया है कि क्या तुम लोगों ने हिन्दुस्तान की अदालत का फैसला स्वीकार कर लिया है। पत्रिका में कहा है कि हिन्दुस्तान के मुसलमान सरकार के खिलाफ हथियार उठाएं। भारत की सुरक्षा एजेंसियां सोशल मीडिया और वेब पर इससे जुड़े संवादों पर कड़ी नजर रखती है। दिल्ली पुलिस ने इस मामले में मार्च में जामिया नगर से दो लोगों को गिरफ्तार किया था जो ISIS के लिए मैगजीन छापते थे। इसके बाद दिल्ली पुलिस ने और कई गिरफ्तारियां की है।

Sharing is caring!

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *