अक्षय कुमार की फिल्म लक्ष्मी बॉम्ब पर लगा लव जिहाद के आरोप, ट्विटर पर शेम ऑन अक्षय कुमार का चला ट्रेंड

ट्रेंडिंग मनोरंजन

अक्षय कुमार की फिल्म लक्ष्मी बॉम्ब रिलीज होने से पहले ही विवाद में फंस गई हैं। ट्विटर पर #ShameOnUAkshayKumar ट्रेंड हो रहा है। अक्षय पर आरोप लग रहे है की उन्होंने सुशांत केस में एक भी शब्द नहीं बोला है और दूसरी और वो रिया चक्रवर्ती के का पक्ष लेते नजर आ रहे थे। बॉलीवुड में ड्रग्स मामले में भी अक्षय कुमार की चुप्पी इस विरोध का कारण बन रही है साथ ही साथ अक्षय कुमार के पास कनाडा की नागरिकता है। उन्होंने अभी तक भारत की नागरिकता ही नहीं ली है और कैनेडियन नागरिकता के साथ वो भारत के सबसे बड़े देशभक्त होने के दिखावा करते हैं। अक्षय कुमार पर पहले भी हिन्दू देवी देवताओं के अपमान का आरोप लग चुका है जब उन्होंने ओ माय गॉड फिल्म में कृष्ण का किरदार निभाया था तो उस समय भी हिन्दू देवी देवताओं और साधु संन्यासियों का खूब मजाक उड़ाया था। ओएमजी के बाद अब फिर हिन्दू देवी लक्ष्मी का अपमान करने की कोशिश की जा रही है इसलिए विरोध तो होना ही था।

हिंदू सेना ने मांग की है कि अगर फिल्म का टायटल नहीं बदला गया तो फिल्म को बायकॉट किया जाए। हिंदू संगठन ने फिल्म को लेकर लव जेहाद का आरोप लगाया है। इसी की वजह से फिल्म सोशल मीडिया पर ट्रोल भी हो रही है। इतना ही नहीं हिंदू सेना ने फिल्म की कास्ट, क्रू और प्रमोटर्स के खिलाफ एक शिकायत पत्र सूचना प्रसारण मंत्री प्रकाश जावड़ेकर को सौंपा है। इस फिल्म पर आरोप लगाया गया है कि इसमें माता लक्ष्मी के नाम का इस्तेमाल करते हुए हिंदुओं की भावनाओं को आहत करने का काम किया गया है। हिंदू सेना का कहना है कि जब तक उनकी मांगें पूरी नहीं होती हैं तो हिंदू सैनिक हर सिनेमाघर के बाहर खड़े होकर विरोध करेगें ताकि देशभर में कहीं भी इस फिल्म की स्क्रीनिंग ही न हो सके।

इस फिल्म के ट्रेलर से साफ पता लग रहा है कि फिल्म के जरिए लव जेहाद को बढ़ावा दिया जा रहा है। अक्षय कुमार और कियारा आडवाणी की फिल्म एक हॉरर कॉमेडी फिल्म है। लक्ष्मी बम दक्षिण भारतीय फिल्म कंचना का रीमेक है। कंचना में हीरो राघव है जो एक हिन्दू है जबकि इस फिल्म में हीरो का नाम आसिफ है यानि अक्षय कुमार को मुसलमान दिखाया गया है किन्तु हीरो की पत्नी प्रिया यानि कियारा अडवाणी एक हिन्दू लड़की ही दिखाई गई है। फिल्म के भीतर आसिफ और प्रिया की यह शादीशुदा जोड़ी को लव-जिहाद का एक सफल प्रमोशन माना जा रहा है। इसलिए इस जेहादी मानसिकता वाली फिल्म का विरोध उठाना लाज़मी है।

राहुल गांधी को दुत्कार दिए कमलनाथ !

इस फिल्म में लव जेहाद के होने के एक कारण और माना जा रहा है। इस लक्ष्मी बम फिल्म की प्रोड्यूसर हैं शबीना खान और कहा जाता है की शबीना अफगानी मूल से है और कश्मीरी अलगाववादी हैं। वो कश्मीर और धारा 370 पर निरंतर भारत तथा भारत सरकार के विरुद्ध बयान देती आई हैं। इसलिये इस फिल्म के जरिए उन्होंने लव जिहाद को प्रमोट किया है। लव जेहाद के चक्कर में ही में तनिष्क के विज्ञापन में भी ऐसी ही एक नासमझ कोशिश की गई थी जो कम्पनी को बड़ी भारी पड़ी है और कंपनी को अपना विज्ञापन तक वापस लेना पड़ा था। कोई भी फिल्म हो या प्रोडक्ट, बिना खरीदारों के बाजार में टिक नहीं सकता इसलिए ग्राहकों को बाजार का राजा माना जाता है। अब इस फिल्म के विरोध में बाजार का राजा यानि दर्शक ही विरोध में आए गया है तो इसका भी तनिष्क जैसा हाल ही होगा। अगर दर्शकों को भावनाओं का धन्य नहीं रखा जाएगा तो दर्शक इस फिल्म को फ्लॉप करने में अहम भूमिका भी निभा देंगे।

Sharing is caring!

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *