बॉम्बे हाई कोर्ट में कंगना रनौत की हुई जीत, BMC को देना होगा कंगना को मुआवजा

प्रमुख खबरें मनोरंजन

बीएमसी के द्वारा कंगना रनौत के दफ्तर तोड़े जाने के मामले में बांबे हाईकोर्ट ने आदेश दिया है कि बीएमसी को कंगना को मुआवजा देना होगा। कोर्ट के फैसले के बाद अभिनेत्री कंगना राणावत ने ट्वीट करके अपनी खुशी जाहिर की है।

सितंबर के महीने में मुंबई स्थित कंगना रावत के दफ्तर में बीएमसी ने अवैध तरीके से बुलडोजर चलवा दिया था जिसकी वजह से कंगना का ऑफिस चकनाचूर हो गया था। बीएमसी की इस कार्रवाई से कंगना को करोड़ों का नुकसान हुआ था। दम तोड़ जाने के बाद कंगना राणावत ने मुंबई हाईकोर्ट में बीएमसी के खिलाफ याचिका दायर की थी और मुआवजे की मांग की थी जिसके बाद अब कोर्ट ने उनकी इस मांग को सही ठहराया है। कोर्ट ने कहा कि बीएमसी ने गलत इरादे से कंगना के दफ्तर पर बुलडोजर चलाया था। कोर्ट ने बीएमसी द्वारा की गई कंगना राणावत के दफ्तर में कार्यवाही को नागरिकों के अधिकारों के विरुद्ध भी बताया।

कंगना ने ट्वीट करके इस फैसले का स्वागत किया है। कंगना ने लिखा है, “जब कोई सरकार के खिलाफ खड़ा होता है औऱ जीतता है तो जीत उस इंसान की नहीं बल्कि लोकतंत्र की होती है। उन सभी का शुक्रिया जिन्होंने मुझे हौसला दिया, उनका भी शुक्रिया जो मेरे टूटे सपनों पर हंसे थे। आपके विलन बनने पर ही मैं हीरो बन सकी।”

कंगना राणावत को कितना मुआवजा दिया जाएगा इसके लिए बांबे हाईकोर्ट ने एक वैल्युअर को भी नियुक्त किया है। अब वैल्युअर कंगना के दफ्तर में नुकसान हुई संपत्ति का जायजा लेगा और यह तय करेगा कि कितने रुपए की संपत्ति का नुकसान हुआ है जिसके बाद उस संपत्ति के नुकसान के बदले बीएमसी को कंगना राणावत को मुआवजा देना होगा। वैसे कंगना राणावत ने दो करोड़ रुपए मुआवजे की मांग की थी। कंगना के मुआवजे की मांग के मुताबिक उनके दफ्तर में दो करोड़ रुपए की संपत्ति का नुकसान हुआ है।

 

Sharing is caring!

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *