वेब सीरीज तांडव

हिन्दू विरोधी वेब सीरीज “तांडव” पर सूचना और प्रसारण मंत्रालय हुआ सख्त, निर्माता हुए तलब

ट्रेंडिंग प्रमुख खबरें मनोरंजन

भाजपा सांसद मनोज कोटक ने सूचना और प्रसारण मंत्री प्रकाश जावड़ेकर को पत्र लिखकर अमेज़न प्राइम वीडियो की वेब सीरीज “तांडव” पर प्रतिबंध लगाने की मांग की जिसमें हिंदू देवी-देवताओं का मजाक उड़ाया गया है। अब मंत्रालय ने अमेज़ॅन प्राइम वीडियो अधिकारियों को तलब किया है।

मुंबई पूर्वोत्तर सांसद ने कहा कि हिंदू देवी-देवताओं को बुरी रोशनी में दिखाने के लिए अक्सर ऐसे डिजिटल प्लेटफार्मों पर प्रयास किए जाते हैं।भाजपा सांसद ने कहा कि अभिनेताओं, निर्माताओं और निर्देशकों को भावनाओं को आहत करने के लिए माफी मांगनी चाहिए।

हाल ही रिलीज़ होने वाली वेब सीरीज ने विभिन्न संगठनों और व्यक्तियों के क्रोध को आमंत्रित किया है जिन्होंने शिकायत की है कि हिंदू देवी-देवताओं का उपहास किया गया है।

अपने पत्र में, कोटक ने कहा कि डिजिटल सामग्री को नियंत्रित करने वाला कोई कानून या स्वायत्त निकाय नहीं है, ऐसे प्लेटफॉर्म सेक्स, हिंसा, ड्रग्स, दुर्व्यवहार, घृणा और अश्लीलता से भरे हुए हैं और कभी-कभी, वे धार्मिक भावनाओं को भी आहत करते हैं।

कोटक के अलावा, घाटकोपर पश्चिम के एक अन्य भाजपा विधायक राम कदम ने भी निर्देशक से वेब सीरीज के उस हिस्से को हटाने के लिए कहा जिसमें भगवान शिव का उपहास किया गया है।

BARC पूर्व सीईओ पार्थो दासगुप्ता की पत्नी ने मानवाधिकार आयोग, पीएमओ से पति को मुंबई पुलिस से बचाने की लगाई गुहार

वेब सीरीज  फिल्म निर्माता अली अब्बास जफर और हिमांशु किशन मेहरा द्वारा निर्मित और निर्देशित की गई है और इसे गौरव सोलंकी ने लिखा है, जिन्हें विवादित ‘अनुच्छेद 15’ के लिए जाना जाता है।

विवाद के बीच का दृश्य मुस्लिम एक्टर जीशान आयूब के भगवान शिव से संबंधित है, जहां वह भगवान शिव के रूप में तैयार किया गया था। एक  हिन्दू विरोधी सीन में एक्टर ने बताया कि भगवान राम आज कैसे अधिक लोकप्रिय हो गए हैं। जब अमेज़न प्राइम वीडियो पीआर से संपर्क किया गया तो उन्होंने कहा कि इस मामले पर प्लेटफॉर्म “जवाब नहीं देगा”।

हिन्दू विरोधी वेब सीरीज तांडव पर तत्काल बैन लगनी चाहिए और लोगों को ऐसे प्लेटफॉर्म, एक्टर्स और वेब सीरीज को बैन कर देना चाहिए। जीशान आयूब और सैफ अली खान जैसे इस्लामिक कट्टरपंथियों का काम ही ऐसा है इसलिए उन्हें कुछ कहना बेकार है बल्कि उनका बहिष्कार कर के उन्हें सड़क पर ला देना ही उचित है। उम्मीद है कि लिबरल्स के चहिते प्रकाश जावड़ेकर कुछ कदम उठाएंगे क्योंकि हिन्दू समाज ऐसी हिन्दू विरोधी वेब सीरीज को नहीं सहन करेगा।

Sharing is caring!

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *