चंद्र बाबू नायडू

चंद्र बाबू नायडू कहां हैं? याद है?

डॉ प्रदीप भटनागर लोकसभा के पिछले आम चुनाव 2019 में आंध्र प्रदेश के तत्कालीन मुख्यमंत्री चंद्र बाबू नायडू ने विपक्षी एकता की जबरदस्त कोशिशें की थी. प्रधानमंत्री मंत्री बनने की आंतरिक इच्छा के बावजूद वे कहते थे कि कोई प्रधानमंत्री बन जाए, लेकिन मोदी को हराना देश बचाने के लिए जरूरी है। भाजपा के पूर्व […]

Continue Reading
हिन्दू राष्ट्र

मोदी साहेब से हिन्दू राष्ट्र मण्डली का हुआ मोहभंग

एस कुमार अजीत भारती, संजय दीक्षित, तुफैल चतुर्वेदी और ऐसी ही प्रेरणा देने वाली यूट्यूब मण्डली अब ऊब चुकी है और विगत वर्षों से उन्होंने हिन्दू राष्ट्र का सपना छोड़, अपनी तोपें साहेब की ओर मोड़ दी है। एक मनोवैज्ञानिक ग्रंथि होती है, आप किसी से आशा रखकर उसके खेल में शामिल हो जाते हैं, […]

Continue Reading

अरविंद केजरीवाल की दिल्ली जीत के पीछे मुस्लिम वोट बैंक

रामप्रकाश नेमानी कभी आपने गौर किया है कि जो अरविंद केजरीवाल दिल्ली लोकसभा में  एक भी सीट नहीं जीत पाए, वो विधानसभा में सत्तर में से 67 कैसे जीत जाते हैं ? इसका इलाज ढूंढ लिया गया है ! कभी दिल्ली एनसीआर की  डेमोग्राफी पर नजर डालिए। दिल्ली के चारों तरफ खास करके up साइड […]

Continue Reading

नए उत्तर प्रदेश भाजपा अध्यक्ष पर फंसा पेंच

प्रमोद शुक्ल उत्तर प्रदेश में भाजपा अध्यक्ष का पद महीनों से खाली पड़ा है। कम से कम भारतीय जनता पार्टी में लंबे अरसे से यह व्यवस्था रही है कि कोई एक व्यक्ति दो कुर्सी पर नहीं रहेगा। परंतु भाजपा की यह परंपरा भी अब ढीली पड़ती जा रही है। विधानसभा चुनाव के बाद पार्टी के […]

Continue Reading
पीएम मोदी

पीएम मोदी जी, देश ‘उनके’ बाप का है !

एस ओम प्रकाश पीएम मोदी जी, देश उनके बाप का है ! जिन्होंने देश को बाँटा वे अब 15 अगस्त के पावन अवसर को भी बाँट रहे हैं ! देश को अपने बाप की बपौती समझनेवाले राजनैतिक बादशाह भला लालकिले से अपनी और अपने परिवार की आरती नहीं उतारे जाने को कैसे बर्दाश्त कर सकते […]

Continue Reading

अमित शाह से सच क्यों छिपाया नीतीश कुमार ने ?

ओमकार चौधरी नीतीश कुमार ने नौ अगस्त को मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा दिया और अगले दिन फिर मुख्यमंत्री पद की शपथ ले ली, लेकिन इस बार भाजपा के बजाय राष्ट्रीय जनता दल, कांग्रेस, माकपा सहित कुछ दूसरे दलों के साथ । यह करीब-करीब वैसा ही था, जैसे 2017 में उन्होंने रातों-रात राजद और कांग्रेस का […]

Continue Reading
चिराग पासवान

काश ! मोदी और भाजपा ने चिराग पासवान की कदर की होती

राजदीप रे 2013 में जब नरेन्द्र मोदी के नाम पर नीतीश कुमार एनडीए से अलग हुए तब मोदी को बिहार जैसे सत्ता के दूसरे सबसे प्रमुख राज्य में एक मजबूत सहयोगी की जरूरत थी। तब रामविलास पासवान को एनडीए में वापसी कराने में उनके बेटे चिराग पासवान की भूमिका अहम थी। चिराग पासवान हर उस […]

Continue Reading
बिहार की राजनीति

नीतीश कुमार फिर पलटे लेकिन बिहार की राजनीति में पहली बार अच्छा हुआ !

सर्वेश कुमार तिवारी पिछले सात-आठ वर्षों में बिहार की राजनीति में पहली बार कुछ अच्छा हुआ है। यह आश्चर्यजनक ही है कि कल के घटनाक्रम के बाद राजद, जदयू और भाजपा तीनों के वोटर और समर्थक खुश हैं। हम तेजस्वी के वोटर नहीं रहे, पर कल के खेल के बाद बधाई देनी बनती है। क्या […]

Continue Reading
मोदी-योगी मॉडल

देश में अब मोदी-योगी मॉडल ही चलेंगे

कौशल सिखौला एक बात मान लीजिए, कुछ लोगों को बेशक नाम से घृणा हो और शक्ल से नफ़रत हो। देश में अब मोदी- योगी मॉडल ही चलेंगे। मोदी मॉडल की दीवानगी लोगों के सिर चढ़कर बोलती है, अभी लम्बे समय तक बोलती भी रहेगी। योगी मॉडल राज्यों में चल निकला है, अनेक राज्यों ने गुडों […]

Continue Reading
प्रियंका गांधी

ईडी से बचने हेतु प्रियंका गांधी का चुनावी ड्रामा

कौशल सिखौला प्रियंका गांधी का कल वाला ड्रामा बड़ा हास्यास्पद था ! मानों किसी फ़िल्म की शूटिंग हो रही हो ! अब यह तो सभी जानते हैं कि गांधी परिवार की चुभन महंगाई नहीं, ईडी है। प्रदर्शन का ड्रेस कोड भारत की राजनीति में पहली बार देखा गया ! ईडी का कांटा कुछ ऐसा लगेगा, […]

Continue Reading