अमेरिका

अमेरिका के कारण यूरोप मरेगा भूखा !

विदेश ट्रेंडिंग प्रमुख विषय
  • चन्दर मोहन अग्रवाल


या तो अमेरिका अपना थूका हुआ चाटेगा और या फिर पूरा का पूरा यूरोप भूखा मरेगा।अगले कुछ महीनों तक अगर रूस और यूक्रेन का युद्ध जारी रहता है तो यूरोप बहुत बड़ी मुसीबत में पड़ने वाला है। उसी मुसीबत से बचने के लिए यह सारे के सारे यूरोपियन देश भारत से बड़ी मात्रा में गेहूं इंपोर्ट करके अपने यहां बफर स्टॉक बनाना चाहते थे।

मोदी जी ने गेहूं के एक्सपोर्ट पर पाबंदी लगाकर यूरोप की उम्मीदों और उनकी इस मंशा पर पलीता लगा दिया। अब यह सब देश मिलकर कभी आईएमएफ के पास जाते हैं, कभी यूनाइटेड नेशन सिक्योरिटी काउंसिल के पास जाते हैं, कभी अपने प्रतिनिधि भारत में भेजकर भारत को धमकाने की कोशिश करते हैं।


अमित के साथ – मुद्दे की बात भाग 4 : हिंदी पत्रकारिता दिवस 2022 विशेष

अमित के साथ – मुद्दे की बात भाग 4 : हिंदी पत्रकारिता दिवस 2022 विशेष


पर इनको शायद यह नहीं पता कि अब भारत पर मोदी सरकार राज करती है और उसको इन सब बातों से कैसे निपटा जाए इसकी पूरी अक्ल भी है और ताकत भी है।

पिछले 250 सालों से भी ज्यादा समय से भारत पर हंसने वाले इन सफेद चमड़ी वालों की यह दशा देखकर मुझे तो बहुत मजा भी आ रहा है और सुकून भी मिल रहा है।

Sharing is caring!

Leave a Reply

Your email address will not be published.